आयुष की मधुबनी बहाली

आयुष की मधुबनी बहाली

मधुबनी सी एस द्वारा आयुष की बहाली करोना रोगी को नियंत्रन करने को लेकर निकाला गया था। जो करोना रोगी को कम होने के कारण रोक दिया गया। लेकिन खबर आयी की एम बी बी एस की बहाली ली गई है। बर्तमान समय मे समाज मे एक खास चिकित्सा के प्रति लोगो का झुकाव का कारण को देखते हुए सरकार कोई नई पहल नही करना चाहती है। राजनैतिक बिबसता का कारण बिकाश मे बाधा का पहुँचना एक पुरानी प्रक्रिया है। इसके बाबजुद हमलोग इसके साथ जिने को आदी हो गये है।

     यह कविता हमें इस व्यवस्था को समझने की कोशीश के रुप मे लिखा गया है। आज हमें प्रायोगिक परिक्षण के साथ साथ लोगो के स्वास्थ्य का समुचित ख्याल रखना होता है। इसके लिए सहज एवं सजग होना जरुरी है। कविता पाठ के बाद अपनी प्रतिक्रिया  को जरुर रखे जिससे की आपका दृष्टिकोण आम जन तक पहुँच सके। जय हिन्द

आयुष की मधुबनी बहाली’, ‘आयुष कि बहाली मधुबनी सि यस द्वारा किया जाना था लेकिन तैयारी को बट्टा लग गया। करोना रोगी की कम संख्या बताकर टाल दिया लकिन एम बी बी एस की बहाली ली गई। कविता पाठ मे इसकी झलक मिलती है।

लेखक एवं प्रेषकः- अमर नाथ साहु

By sneha

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!