यादो का सफऱ

यादों का सफर

यादों का सफर

योदों का सफर बड़ा लम्बा होता है। हमारे सफर की धुंधली तस्वीर हमारे मस्तिष्क मे लम्बे समय तक सुरक्षित रहता है। इस सफर का कुछ पहलु ऐसा होता है, जो हमारे अनुभव का भाग बन जाता है। जिवन यात्रा मे जहां हमें कठीनाई का सामना करना पड़ता है और हम कोई सहारा ढ़ुढ़ते लगते है, तो यही यादें हमारा मार्ग दर्शन करती है। जिवनदर्प उजियारा हो इसके लिए यादो के सफर का होना अच्छा माना जाता है। यह हमारी ओ सम्पत्ति है, जिससे हमारे जिवन को एक अर्थ मिलता है।

बिध्न बिनाशक माने जाने वाले यह सफर सबके लिए यादगार जरुर होता है, लेकिन इसका स्वरुप अगल अलग होकर भी यह हमारे मार्ग दर्शन का कार्य करता है। यहां हम एक ऐसी यादो के सफर को अपने लेख मे ले रहे है, जिससे हम यथार्थ की ओर गहरी दृष्टि डाल कर उससे सिख लें। हमारा उद्देश्य समय के बलि बेदि पर जाने वाले तथा समय के साथ रहने वाले के बिच के पुल को रेखांकित करना है। आना जाना तो लगा रहता है, लेकिन सफरनामा हमारे आत्मिक शक्ति का दोत्तक बनता है।

     हमारी जिवन संधर्ष का स्वरुप कैसा हो इसका आकलन करने के लिए गुजर गये लोगो के राह को देखने की परंपरा बहुत पुरानी है। लेकिन समय के साथ होने वाले एहसास का स्थान सदा उज्जवल ही रहता है। हम इन यादो के सहारे अपने कविता को एक रुप देने की कोशीश की है,

नोटः- आपको पशंद आये तो शेयर करना न भुले, जिससे दुसरो का भी मार्गदर्शन हो। जय हिन्द

लेखकः- अमर नाथ साहु

संबंधित लेख को जरुर पढ़ेः-

  1. सीडीेएस बिपिन रावत को श्रद्धांजलि हमे भारत के प्रति आगाध प्रेम की ओर प्रेरित करता रहेगा। काव्य लेख पढे।
  2. दोस्ती का सफर श्रद्धांजलि एक आत्मियता के भाव को दर्शाता काव्य लेख प्ररित करता है, व्यवस्थित रहने के लिए।
  3. दोस्त को श्रद्धांजलि यदी उनको असामयिक शरीरिक यात्रा छोड़ना पड़े तो एक चिंतन बनता है। यह काव्य लेख एक चिंतन को कहता है।
  4. यादों का सफर एक यात्रा की कहानी का योग है जिसमें विकाश की यात्रा का महोक वर्णन है। काव्य लेख संकलन को देखें।
By sneha

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!