करोना की दुसरी लहर

करोना की दुसरी लहर

poem

करोना की दुसरी लहर प्रकोप पुरे बिश्व पर हुआ है। भारत मे इसका असर काफी प्रभावी रुप से देखा गया है। करोना के पहले लहर से कुछ परिवर्तित रुप मे करोना का प्रभाव चल रहा है। भारत सरकार द्वारा पुरे देश मे लॉकडाउन को लगाया गया है। परिस्थिती तथा प्रभाव के अनुरुप इसमे परिवर्तन का छुट दिया गया है। करोना की बर्षी मार्च 2021 महीना मे हमलोगो ने मनाया है।भाईरल बिमारी होने के कारण अभी तक सही दबा नही खोजा गया है। बैज्ञानिक के द्वारा लगातार प्रयास जारी है। दुसरा लहर के प्रकोप से ठिक हुए लोग एक नयी बिमारी का शिकार हो रहे है। ईम्यन पावर का शरीर मे सबसे ज्यादा प्रभाव जिसके शरिर मे रहता है वह बिमारी का ज्यादा मुकावला कर रहे है। सामान्य बिमारी समझे जाने वाले सर्दि कफ लोगो मे एक डर पैदा कर दिया है कि कही करोना की प्रकोप तो नही है। मौत की लगातार खबरो हमारी समस्या डर रुपी साये ने ले लिया है। जिसका सामना हमे करोना के समुचित हल निकलने तक करना होगा। करोना के गाईडलाइन का पालन करना एक प्रभावी कदम माना जा रहा है। कहा भी गया है prevention is better than cure.

इसे भी पढ़े

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *