Identification

अनोखी पहचान

अनोखी पहचान

अनोखी पहचान पहचान व्यक्ति का स्वभाविक गुण होता है। यदि व्यक्ति स्व मे लीन है तो उसकी पहचान अनोखी हो जाती है। उसके प्रती हमारी उत्सुकता बढ़ जाती है। उसके बारे मे जानने की हमारी जिज्ञासा तिव्र हो जाती है। हमारी खुशी कुछ जानने तथा सिखने के प्रति ढृढ़ हो जाती है। दुसरी तरफ वैसे लोग होते है जिसको समझना कठीन होता है वह वड़े ही कुटील स्वभाव के होते है। जिसके भाव को देखकर असमंजस की स्थिती रहती है यहां भी जानने की जिज्ञासा होती है पर सावधानी के लिए बरन कुछ सिखने के लिए नही। अनोखी पहचान मे…
Read More
error: Content is protected !!