यादो का नया साल

यादो का नया साल

यादो का नया साल

यादों का नया साल का जिवन प्रयंत चलने वाला अनुभव का योग है। कुछ पल ऐसे होते है जिसे हम बार बार याद करते है। हमारा सफर और अच्छा हो इसकी याद करने के लऐ हम लगातार प्रयासरत रहते है। यादो का नया साल हमे पुराने बिते समय की एक रुप रेखा खिंचता है तथा नया करने के लिए संकल्प की प्रेरणा देता है। हमारे सामने हमारे विचार स्थल पर एक पूरा परिदृश्य होता है जिससे की हम समय के साथ ज्यादा समायोजन कर सके। हम अपने नजरीया मे बदलाव लाकर सही तरह से प्लान को अपडेट करें। जिससे की हमारे जिवन उत्साह मे उत्तरोतर बिकाश हो।

जीवन के पहले प्रणय काल की उत्तम बेला को उसी रूप में धारण करना संभव नहीं है। बिताते समय के साथ होने वाले संयोग वियोग को वर्ष में एक दिन समायोजित करते है, वह दिन होता है शादी का वर्षगाठ। यह दिन हमारे प्रायोगिक जीवन की रूपरेखा को सुनियोजित एवं ऊर्जावान करने का दिन होता है। बढ़ती जिम्मेदारी के साथ घटता जीवन और बढ़ते अनुभव को एकात्म कर यथेष्ठ बनाना होगा। आनंद का भी अपना एक गणित होता है, जो ये जान ले उसका जीवन गुणित होता रहता है। आपको सबका आशीर्वाद प्राप्त हो। आपका मंगल होता रहे।

हे योगपुरुष तुम तो परम वैभवशाली हो। तुम काल की गणना में न उलझो। तुम अपने श्रेष्ठ कर्म को करते जाओ। तुम्हे तुम्हारा आत्मबोध सबका आभाष करते जाएगा। तुम अपने मन की दशा को परिस्थिति को समझने में लगाओ तथा उससे प्राप्त यथेष्ठ कार्य वल से कार्य सम्पादन कर आनंदित हो जाओ। तुम पाओगे तुम्हारा मन उत्साहित होकर हर विघ्न को पर करने की क्षमता रखता है। संयम एवं सेवा का भाव ही तुम्हे शक्तिमान बनाए रखेगा।

इस पावन बेला पर हम आपके बंधु बांधव सहित पूरे परिवार की मंगलकामना करते है। आपका मार्गदर्शन सबको प्राप्त हो ऐसा भाव सबमें हो। आप दीर्घायु हो, स्वस्थ रहे, नवाचार को अपनाए। हे प्रभु ऐ दिन बार बार आए। जय हिंद।

नोट: आप अपने उदगार को कामेंट बॉक्स में लिखें जिससे की लोग आपसे अनुग्रहित हो। जय हो।

संबंधित लिंक पर जरूर क्लिक करे।

  1. 1. मामा जी का 45 एनिवर्सरिस जीवन के इस पराव तक पहुंच की एक गाथा जिसमे राजतीनित और सशक्त हुई।
  2. 2. मोबाइल वाली दुल्हन की अनोखी गाथा को कहता ये काव्य लेख बदलते जीवन पद्धति को दर्शा रहा है।
  3. लेखक एवं प्रेषकः- अमर नाथ साहु

By sneha

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!