sneha

143 Posts
बिंदास भोला

बिंदास भोला

बिंदास भोला अपने सिमित साधन के साथ नवाचार होते हुए खुश रहने वाले भोला को लोभी, भोगी और मानसिक रोगी वाले से चिढ़ बढ़ती है। वह इन लोगो के करीब नही आना चाहता है। लेकिन प्रकृति मे निरंतर घटनाक्रम चलते रहता है हम अपने स्वभाव के अनुरुप ही उसका प्रतिकार करते है तथा उसके फलाफल को प्राप्त कर अपनी जीवन यात्रा पर आगे निकल जाते है।    भोला चाहता है कि संसार के सभी प्राणी बिंदास होकर जीवन यापन करे। कोई किसी की आंतरीक सीमा मे जाकर क्यो उसके बिंदास जीवन पर जबरन अधिकार प्रत्योरोपित करे। इस व्यवस्था का बिरोध…
Read More
आशा की किरण

आशा की किरण

आशा के किरण जिन्दगी मे आगे बढ़ने के लिए आशा शब्द का बड़ा ही महत्व होता है। गुणकारी व्यक्ति को यदि आशा की किरण दिख जाय तो ओ संभावना के प्रती अपने आशा को आश्वस्त करने मे जुट जाते है। समय के साथ सकारात्मक परिवर्तन आशा को मजबुती देने लगता है। कार्य के प्रति मानसिक दृढ़ता बढ़ने लगती है। चर्चा के बिषय मे इस बातों की प्रधानता बढ़ने लगती है जिससे की सही जानकारी को जुटाते हुए कार्य के प्रति लगाव को गहराई मिलता रहे।         कुछ नया करने का जजबा रखने बाले लोग इस गुण के धनी होते है,…
Read More
आनंद के मोती

आनंद के मोती

आनंद के मोती जीव को हमेशा बातावरण के साथ संतुलन बना कर रहना होता है साथ ही उन्नत कर्म कौशल से जीवन को आगे ले जाते हुए स्वयं को उर्जावान भी रखना होता है। इसके बीच ही हमे आनंद की गहरी अनुभुती भी करनी होती है। यह सिर्फ चाहने से नही बल्की सतत प्रयास के योग सधना से ही इन खुशीयों के प्राप्त किया जा सकता है। आनंद के मोती से मेरा  तातपर्य था की निराश व्यक्ति के पास सही मार्गदर्शक की कमी होती है जिससे उनकी निराशा उनके आंनंद के पल को समझ ही नही पाती है या उनकी…
Read More

मेहदी की मुश्कान

पैधों मे गुणकारी मेंहदी अपने सुनहरे रंग के लिए जानी जाती है। इसका रंग लगने और लगाने वाले दोनों को प्रभावित करता है। उत्सव के अवसर पर इसके श्रृंगार के उत्सव का रुप भी दिया जाता है। उकेरे जाने वाले तथ्य की भी बिभिन्नता होती है। जिसकी कलात्मकता हमारी अंतः करण को जगाती है। हमारे मनोभाव को प्रभावित करने वाला यह गुणकारी रंग अपने कला के साथ श्रृगार किये हुए को भी समझने का एक मौका प्रदान करता है। उकेरे जाने वाले तथ्य भी व्यक्तिगत पसंद का रुप होता है जो आंतरिक भाव को स्पष्ट करता है। भाव की शैली…
Read More
तप और ज्ञान

तप और ज्ञान

तप और ज्ञान तप और ज्ञान संयम से शारीरिक नियंत्रण को समझते हुए कठिन से कठिन भाव को समझने के लिए तप करना होता है। जिससे एक स्थाई विचार के साथ संस्कार का विकास हो जाता है। इससे ज्ञान को अर्जन करने में आसानी होती है। ज्ञानी होने से ही हमारे दुख का अंत होता है। क्योंकि कठिनाई में ज्ञान हमे अगला रास्ता दिखा देता है। तप करने की प्रेरणा जगाना भी एक बहुत बड़ी उपलब्धि है क्योंकि भौतिक जीवन के सुखद एहसास के पार जाना आसान नहीं है। जाकर भी संकल्प को पूरा करना और कठिन है। इसके बाद…
Read More
Happy and Love

Happy and Love

खुशी और प्यार खुशी और प्यार प्यार एक दूसरे को समझने का बंधन है जिसके सहारे खुशियों को उच्च स्थान प्राप्त होता है। बंधन हमारे स्वभाव जनित संबंध को दर्शाता है। इसकी गहराई हमारे सक्रियता पर निर्भर करता है। समय के साथ यदि इसमें बदलाव होता है तो खुशियां भी कम या अधिक हो जाती है। आजकल के व्यवसायिक सोच ने संबंधों को भी प्रभावित करने लगा है। जिससे खुशियों को बनाए रखना एक गंभीर चुनौती बन गई है। सीमित अवधि वाला खुशी यदि जोखिम भरा भी ही तो कई लोग आगे निकल जाते है जिससे की उसमे प्यार की…
Read More
दृढ़ता से नैतिक विकास

दृढ़ता से नैतिक विकास

नैतिक विकास के लिए हमें सतत प्रयास की जरूरत होती है। हमे अपने लिए एक व्यवस्था विकसित करनी होती है। जिसका अभ्यस्त होना होता है तथा समय के साथ नवीन विचार से भी खुद को जोड़ना होता है। फिर विकाश की प्रक्रिया समय से साथ चलने लगती है। संकल्प शक्ति का प्रयोग करते हुए बेहतर प्रवंधन के सहारे ही हम विकास की धारा को बनाये रख सकते है। खुद पे बिश्वास होना भी वहुत जरुरी होता है इसके लिए हर जरुरी तथ्य को जोड़कर आगे ले जाना होता है। उच्च कार्य उर्जा वाले के लिए कार्य को करना आसान होता…
Read More
Handle yourself

Handle yourself

खुद को संभाल खुद को संभाल सहेली जीवन में शादी एक अनोखा उत्सव है इसमें मानसिक चंचलता अपने चरम पर रहता है। एक नए जीवन के प्रति उत्साह का अपना अलग ही उमंग होता है। साथी सहपाठी के प्रती जुड़ाव से उसके प्रती आत्मीयता और बढ़ जाती है। उसमें नवीन बिचारों का एक मादक व्यवहार दिखाई देने लगता है लेकिन अपने - अपने सीमा के अधिन ही बिचारो का आदान प्रदान होता रहता है। ऐसी ही एक बिचार को व्यक्त करता ये युक्ति जीवन मे आने वाली संभावना के प्रती बिचार को स्थापित करने का एक योग है। अपनो के…
Read More
Pyara gulab

Pyara gulab

प्यारा गुलाब गुलाब से खुद का हिसाब आज के भाग दौड़ की जिंदगी में स्वयं को व्यवस्थित कर पाना एक चुनौती है। इस चुनौती से निकलने का जिद्दोजहद लगातार चलता रहता है। कुछ तो सफल हो जाते है, कुछ भटक कर कही खो जाते है, कुछ का प्रयास अनवरत चलता रहता है। उपरोक्त उक्ति स्वयं के अंदर की भाव को समझने को प्रेरित करता है जिससे की व्यक्ति समय के साथ खुद का न्याय कर सके। हमारे द्वारा अपनाए जा रहे हर विधा का मूल्यांकन समय के साथ समाज के अंदर किया जाता है जिससे हमे स्वयं को स्थापित करने…
Read More
General bogie

General bogie

साधारण बोगी साधारण ट्रेन से सीख यात्रा आजकल एक जरूरी व्यवस्था बन गया है इसके बिना किसी कार्य को समय से निस्पादन करना एक कठीन बिषय है। यात्रा को सुखद आरामदेह और आनन्द पुर्ण बनाने के लिए लगातार प्रयास चलते रहते है। लेकिन कुछ ऐसी घटना जिनका हमने पुर्वानुमान नही लगाया या हमारी जानकारी इस स्तर की नही थी या समझ नही पाई हमे नुकशान दे जाता है। हमारी इसी व्यवस्था से यह शिकायत रहता है लेकिन इसको बिल्कूल सही कर पाना संभव भा नही होता है। साधारण ट्रेन या साधारण वोगी की बातें करे तो यहां की व्यवस्था समय…
Read More
error: Content is protected !!